[Form PDF] उत्तर प्रदेश (UP) भाग्यलक्ष्मी योजना 2022 ऑनलाइन फॉर्म रजिस्ट्रेशन, PDF Download व अन्य जानकारी

UP Bhagya Laxmi Yojana 2022, Download PDF, Eligibility, Online Apply, Helpline Number Details in Hindi: बेटियों के भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए देश में विभिन्न प्रकार की योजनाएं चलाई जाती हैं। इन योजनाओं के माध्यम से बेटियों को आर्थिक सहायता प्रदान किए जाने के साथ-साथ अन्य सुविधाएं भी दी जाती हैं। देश के अलग-अलग राज्यों में सरकार के द्वारा बेटियों के लिए योजनाएं चलाई जाती हैं। उत्तर प्रदेश (UP) सरकार द्वारा भी लड़कियों को प्रोत्साहित करने के लिए योजनाएं चलाई जा रही हैं। राज्य की ऐसी ही एक योजना भाग्यलक्ष्मी योजना है। इस योजना के माध्यम से गरीब परिवार में जन्मी बेटी को ₹200000 की राशि दी जाती है।

Uttar Pradesh Bhagya Laxmi Yojana की लाभार्थी बेटी को अपने भविष्य को उज्जवल बनाने में सहायता मिलती है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई भाग्यलक्ष्मी योजना क्या है? कैसे इस योजना के लिए आवेदन किया जा सकता है? आइए उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना से संबंधित पूर्ण जानकारी के बारे में जानते हैं।

UP Bhagya Laxmi Yojana 2022 Details in Hindi

योजना का नामभाग्यलक्ष्मी योजना
राज्यउत्तर प्रदेश
लाभ₹2,00,000/- की आर्थिक मदद
लाभार्थी गरीब परिवार की बेटियां
अधिकारिक वेबसाइट (Official website)——–

UP Bhagya Laxmi Yojana 2022 | उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना | Download PDF | यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना Eligibility | Online Apply | आवेदन पत्र पीडीएफ डाउनलोड | Toll Free Number

UP Bhagya Laxmi Yojana Download PDF

उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना क्या है?

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार द्वारा भाग्यलक्ष्मी योजना को प्रारंभ किया गया। योजना के माध्यम से गरीब परिवार में जन्मी बेटियों के भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए उन्हें आर्थिक मदद दी जाती है। 12वीं कक्षा तक पढ़ाई करने के लिए आर्थिक सहायता के तौर पर बेटी के परिवार को ₹200000 की धनराशि दी जाती है। जब बेटी 21 वर्ष की आयु पूरी कर लेती है, तभी सरकार द्वारा यह राशि लाभार्थी परिवार को दी जाती है। बेटी के जन्म लेने पर उस परिवार को ₹50000 का बांड भी मिलता है। साथ ही बेटी की मां को भी लाभ राशि दी जाती है।

UP Bhagya Laxmi Yojana 2022- उद्देश्य

गरीब परिवार में जन्मी बेटी अपनी पढ़ाई बिना किसी आर्थिक परेशानी के पूरी करें इस उद्देश्य से उत्तर प्रदेश (UP) सरकार द्वारा भाग्यलक्ष्मी योजना (UP Bhagya Lakshmi Yojana 2022) को शुरू किया गया। योजना के माध्यम से बेटियों के भविष्य को सुरक्षित किया जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस योजना के माध्यम से बेटी को अलग-अलग किस्तों में राशि का लाभ दिया जाता है। जब बेटी कक्षा 6वीं में पहुंच जाती है तो उसके बैंक खाते में ₹3000, कक्षा 8वीं में प्रवेश करने पर ₹5000, कक्षा 10वीं में आने पर ₹7000 और कक्षा 12वीं में आने पर ₹8000 दिए जाते हैं। खास तौर पर गरीबी रेखा के नीचे आने वाले परिवारों के लिए इस योजना को बनाया गया है।

उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना का लाभ (UP Bhagya Lakshmi Yojana 2022)

  • योजना के माध्यम से गरीब परिवार की बेटियों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।
  • उत्तर प्रदेश के गरीब परिवार में बेटी का जन्म होने पर इस योजना के तहत ₹50000 की धनराशि परिवार को दी जाती है।
  • बेटी के जन्म के बाद मां को भी ₹5100 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।
  • यूपी की बेटी को पढ़ाई के लिए प्रोत्साहित करने हेतु अलग-अलग कक्षा में प्रवेश करने के बाद उसे किस्त के माध्यम से धनराशि बैंक खाते में जमा कर दी जाती है।
  • बेटी यदि कक्षा 6वीं में प्रवेश करती है तो उसे ₹3000 दिए जाते हैं।
  • 8वीं कक्षा में प्रवेश करने पर ₹5000 की धनराशि बैंक खाते में जमा करवाई जाती है।
  • 10वीं कक्षा में पहुंचने पर ₹7000 की राशि दी जाती है।
  • 12वीं कक्षा में पहुंचने पर ₹8000 बेटी के बैंक खाते में जमा कर दिए जाते हैं।
  • जब बेटी की उम्र 21 वर्ष की हो जाती है तब उसके परिवार को ₹200000 की आर्थिक सहायता दी जाती है।
  • परिवार में यदि दो बेटियां हैं तो दोनों बेटियों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा।
  • इससे लड़कियों के शिक्षा के स्तर में वृद्धि होगी।
  • आसानी से ऑनलाइन आवेदन कर इस योजना का लाभार्थी बना जा सकता है।

उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना पात्रता

  • उत्तर प्रदेश का मूल निवासी परिवार ही इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकता है।
  • जो परिवार गरीबी रेखा के नीचे अपना जीवन यापन करते हैं, वही इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • योजना का लाभार्थी बनने के लिए परिवार की सालाना आय ₹200000 कम अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • परिवार में कोई भी सरकारी कर्मचारी नहीं होना चाहिए।
  • बेटी के जन्म के 1 माह के भीतर आंगनवाड़ी में रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य है।
  • यदि बालिका किसी प्राइवेट स्कूल में अध्ययन कर रही है तो उसे योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा।
  • यदि 18 वर्ष की उम्र से पहले लड़की का विवाह किया जाता है तब भी उसके परिवार को योजना का लाभ नहीं मिलेगा।
  • 31 मार्च 2006 के बाद गरीबी रेखा के नीचे आने वाले परिवार में जन्म लेने वाली बेटी इस योजना की लाभार्थी बनने की पात्र होगी।

Uttar Pradesh Bhagya Laxmi Yojana 2021 के दस्तावेज़

  • माता पिता का आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • भाग्यलक्ष्मी योजना में हिस्सा लेने के लिए बेटी का जन्म जहाँ हुआ है उस अस्पताल का बालिका का जन्म प्रमाण पत्र
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना आवेदन पत्र पीडीएफ डाउनलोड (Download Form PDF)

  • योजना के लिए आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको महिला एवं बाल विकास विभाग उत्तर प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट (Official Website) पर जाना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर आपको एप्लीकेशन फॉर्म की पीडीएफ (Form PDF) मिल जाएगी।
  • एप्लीकेशन फॉर्म पीडीएफ पर क्लिक करके आप UP Bhagya Laxmi Yojana के आवेदन फॉर्म को डाउनलोड कर सकते हैं।
  • पीडीएफ फॉर्मेट में आवेदन फॉर्म डाउनलोड (PDF Download) करने के बाद इसका प्रिंट आउट निकलवा ले।
  • अब इस आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे नाम, जन्म तिथि आदि को दर्ज कर दें।
  • ध्यानपूर्वक सभी जानकारी को भरने के बाद मांगे गए सभी जरूरी दस्तावेजों को आवेदन फॉर्म के साथ संलग्न कर दें।
  • अब अपने आवेदन फॉर्म (Application Form) को नजदीकी आंगनवाड़ी केंद्र पर जाकर या फिर महिला कल्याण विभाग के कार्यालय में जमा कर दें।
  • इस तरह से आपके आवेदन की प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*