उत्तर प्रदेश की बाल श्रमिक योजना की मदद से बाल श्रमिकों को मिलेंगे ₹1200 प्रति माह, जानें ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

UP Bal Shramik Vidya Yojana 2022 Details in Hindi: श्रमिकों को ध्यान में रखते हुए केंद्र व राज्य सरकार आए दिन नई-नई योजनाएं तैयार कर रही हैं। आने वाले समय में भी श्रमिकों के लिए सरकार कई कल्याणकारी योजनाओं पर काम कर रही है। इसके अलावा सरकार के द्वारा श्रमिकों के बच्चों को शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने हेतु भी योजनाएं चलाई जा रही हैं। उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा बाल श्रमिक विद्या योजना संचालित की जाती है। योजना की मदद से ऐसे बच्चों को आर्थिक मदद दी जाती है, जोकि बाल श्रम कर रहे हैं। कैसे बाल श्रमिक मजदूरी छोड़कर सरकार द्वारा आर्थिक मदद लेकर शिक्षा हासिल कर सकते हैं? UP Bal Shramik Vidya Yojana Online Registration कर बाल श्रमिक विद्या योजना का लाभ कैसे किया जाता है? आइए उत्तर प्रदेश की इस सरकारी योजना से संबंधित संपूर्ण जानकारी के बारे में जानते हैं।

Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Shramik Vidya Yojana 2022 Details in Hindi

योजना का नाममुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना
राज्यउत्तर प्रदेश
योजना की घोषणा12 जून 2020 
लाभ बाल श्रमिक को शिक्षा हेतु आर्थिक मदद
लाभार्थी  बाल श्रमिक
अधिकारिक वेबसाइट (Official website)———

UP Bal Shramik Vidya Yojana Online Apply, Registration Form Details, Eligibility, Documents

UP Bal Shramik Vidya Yojana

उत्तर प्रदेश बाल श्रमिक विद्या योजना क्या है?

उत्तर प्रदेश के श्रम विभाग के अंतर्गत बाल श्रमिक विद्या योजना को संचालित किया जाता है। 12 जून 2020 को बाल श्रमिक विद्या योजना को पूरे उत्तर प्रदेश में लागू करने की घोषणा की गई थी। इस योजना के अंतर्गत बाल श्रमिक का चयन कर सरकार उसे आर्थिक मदद देती है। यदि बाल श्रमिक यदि लड़का है, तो उसे ₹1000 की राशि दी जाती है। वहीँ बाल श्रमिक यदि लड़की है तो उसे ₹1200 की राशि प्रतिमाह प्रदान की जाती है। इसके अलावा इस योजना के अंतर्गत जिन श्रमिकों के बच्चे कक्षा आठवीं से लेकर दसवीं में पढ़ाई कर रहे हैं, उन्हें उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से प्रतिवर्ष ₹6000 की आर्थिक सहायता दी जाती है।

UP Bal Shramik Vidya Yojana – उद्देश्य

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि श्रमिक परिवार गरीबी के चलते बेहद कम उम्र में अपने बच्चों को श्रम कार्यों में लगा देते हैं। इस वजह से यह बच्चे शिक्षा छोड़कर बाल मजदूर बन जाते हैं। आर्थिक तंगी की वजह से श्रमिक माता-पिता बच्चे को मजदूरी के लिए भेज देते हैं। ऐसे में इन बच्चों की शिक्षा रुक जाती है। उत्तर प्रदेश सरकार की इस योजना का उद्देश्य श्रमिक कार्यों में लिप्त इन बच्चों को शिक्षा के लिए प्रोत्साहित कर इनके भविष्य को उज्जवल बनाना है।

UP Bal Shramik Vidya Yojana – लाभ

  • जो बच्चे बाल श्रम के जाल में फंसे हैं उन्हें इससे निकलने में मदद मिलेगी।
  • योजना की मदद से बाचे शिक्षा के अधिकार के साथ शिक्षा को हासिल कर पाएंगे।
  • मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना की मदद से लड़के को प्रतिमाह ₹1000 दिए जाते हैं।
  • लड़कियों को प्रतिमाह ₹1200 की राशि प्रदान की जाती है।
  • श्रमिकों के जो बच्चे कक्षा आठवीं से लेकर दसवीं में पढ़ाई कर रहे हैं, उन्हें उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा हर वर्ष ₹6000 की आर्थिक मदद दी जाती है।
  • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्राप्त कर यह बच्चे शिक्षा संबंधित अपनी जरूरतों को पूरा कर पाएंगे।
  • आर्थिक मदद से यह बच्चे अध्ययन संबंधित सामग्री खरीद सकते हैं।
  • बच्चे अपनी पढ़ाई पर ध्यान दे पाएंगे।
  • अच्छी शिक्षा प्राप्त कर उन्हें अपने भविष्य को उज्वल बनाने का मौका मिलेगा।
  • इस राशि से बच्चे अपने परिवार की जरूरतों को भी पूरा कर सकते हैं।

Uttar Pradesh Bal Shramik Vidya Yojana पात्रता

  • सिर्फ उत्तर प्रदेश के मूल निवासी श्रमिक बच्चे ही योजना का लाभ ले पाएंगे।
  • 8 से 18 वर्ष की आयु वाले बच्चों को ही योजना में शामिल किया जाएगा।
  • भूमिहीन परिवार व गरीब तबके के परिवारों के बच्चों को योजना का लाभ दिया जाता है।

यूपी बाल श्रमिक विद्या योजना हेतु जरूरी दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • मूल निवासी प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

UP Bal Shramik Vidya Yojana Online Registration Form Details

उत्तर प्रदेश श्रम विभाग की ओर से बाल मजदूरी कर रहे बच्चों की पहचान की जाती है। इसके लिए ग्राम पंचायतों, स्थानीय निकाय, चाइल्डलाइन के स्तर पर सर्वेक्षण किया जाता है। इसके बाद बच्चे को लाभार्थी के रूप में चयन किया जाता है। लाभार्थियों के चयन के बाद पूरा डाटा पोर्टल पर अपलोड किया जाता है। वहीँ उत्तर प्रदेश श्रम विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर भी रजिस्ट्रेशन फॉर्म उपलब्ध है। यहाँ अपनी जानकारी को दर्ज व जरूरी दस्तावेजों को अपलोड कर आवेदन कर सकते हैं। आवेदन स्वीकार होने के बाद लाभार्थी को इस योजना से सम्बंधित लाभ मिलना शुरू हो जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*