राजस्थान किसानों के लिए सौर ऊर्जा पंप पर सब्सिडी | Rajasthan Solar Pump Subsidy Yojana 2020

Mukhyamantri Solar Pump Subsidy Yojana Rajasthan 2022: सरकार किसानों को सौर उर्जा का इस्तेमाल करने हेतु प्रोत्साहित कर रही है। इसके लिए केंद्र और राज्य सरकार द्वारा सौर उर्जा से चलने वाले यंत्रों पर सरकारी योजनाओं के माध्यम से किसानों को सब्सिडी मुहैया करवाई जा रही है। विद्युत पम्पों के स्थान पर सोलर पम्प स्थापित करने पर सरकार ज्यादा जोर दे रही है। जहां कुसुम योजना द्वारा केंद्र सरकार सौर उर्जा को बढ़ावा दे रही है वहीँ राजस्थान सरकार द्वारा राजस्थान सौर ऊर्जा सब्सिडी योजना 2021-2022 चलाई जा रही है। इस सोलर योजन के अंतर्गत राजस्थान में सौर उर्जा से चलने वाले पम्प स्थापित करने हेतु किसानों को अनुदान दिया जाता है। राजस्थान सोलर पम्प सब्सिडी योजना क्या है, किसान इस योजना के लिए आवेदन कर कैसे लाभ ले सकते हैं, आइए मुख्यमंत्री सोलर योजना राजस्थान के बारे में जानते हैं।

Rajasthan Solar Pump Subsidy Yojana in Hindi

योजना का नाममुख्यमंत्री सोलर पंप सब्सिडी योजना राजस्थान
राज्यराजस्थान
योजना की शुरुआत
लाभकृषि सौर पंपों पर अनुदान
लाभार्थी हर वर्ग के किसान
अधिकारिक वेबसाइट (Official website)

सोलर पंप सब्सिडी योजना क्या है?

राजस्थान सरकार द्वारा अपने राज्य के किसानों हेतु सौर उर्जा पंप सब्सिडी योजना को जवाहरलाल नेहरु राष्ट्रीय सौर मिशन के अंतर्गत शुरू किया गया था। राजस्थान सौर ऊर्जा सब्सिडी योजना 2020-2021 के अंतर्गत किसानों को सोलर पम्प की कुल कीमत पर 60 प्रतिशत की सब्सिडी दी जाती है। 40 प्रतिशत किसान को अपनी ओर से देने होते हैं, यदि किसान के पास देने के लिए रुपए नहीं हैं तो वह 30 प्रतिशत हिस्सा बैंक से लोन ले सकता है। भूमि के आकारानुसार किसान को 3 HP और 5 HP क्षमता वाले सोलर पम्प दिए जाते हैं।

हमारा Facebook Page Like करें

राजस्थान सौर ऊर्जा सब्सिडी योजना 2020-2021 का उद्देश्य

किसानों के खर्च को कम करने और सौर उर्जा के प्रयोग हेतु सरकार किसानों को प्रोत्साहित करना चाहती है। इसी उद्देश्य से राजस्थान सरकार द्वारा सोलर पम्प सब्सिडी योजना को शुरू किया गया है। सोलर पम्प द्वारा सिंचाई करने से किसानों का बिजली और डीजल के खर्च का अतिरिक्त भार कम होगा, जिससे उनकी आय में वृद्धि होगी और वे अपनी आजीविका को सुधार पाएंगे। राजस्थान में सौर उर्जा के इस्तेमाल से पर्यावरण प्रदूषण में भी कमी आएगी। आइए जानते हैं कौन से किसान योजना का आवेदन करने हेतु पात्र हैं और इसका लाभ लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया क्या है?

राजस्थान में सौर उर्जा योजना हेतु पात्रता

  • सिर्फ राजस्थान के मूलनिवासी किसान ही इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • जो किसान बिजली कनेक्शन के द्वारा विद्युत पम्पों का इस्तेमाल कर रहे हैं वे इस योजना का लाभ लेने के पात्र नहीं होंगे।
  • जिन किसानों के पास स्वयं की भूमि है वे ही इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। किसान के पास कम से कम 0.5 हेक्टेयर कृषि योज्य भूमि होनी चाहिए।
  • लघु एवं सीमांत किसानों को योजना के लाभ देने में प्राथमिकता दी जावेगी।
  • जो किसान कृषि विद्युत कनेक्शन हेतु बिजली विभाग में आवेदन कर चुके हैं और अब सोलर पम्प कनेक्शन हेतु आवेदन करना चाहते हैं, वे किसान भी इस योजना के पात्र होंगे।
  • राज्य के जिन क्षेत्रों को डार्क जोन्स चिन्हित किया गया है, वहां नलकूप/कुआँ होने पर ही आवेदन लिए जाएंगे।
  • सामुदायिक तालाब, डिग्गी यह अन्य साथ जल स्त्रोत होने पर 3 HP क्षमता वाले सोलर पंप पर सब्सिडी दी जाएगी।
  • किसान के पास 0.5 हेक्टेयर या इससे अधिक जमीन होने की स्थिति में 3 HP क्षमता वाले सोलर पम्प पर अनुदान दिया जाएगा। वहीँ 1 हेक्टेयर या इससे अधिक जमीन होने पर मालिकाना हक़ रखने वाली किसान को 5 HP क्षमता वाले सोलर पम्प पर अनुदान प्रदान किया जावेगा।
  • अपने खेत पर सोलर पंप संयंत्र स्थापित करने हेतु पॉवर ग्रिड से खेत की दूरी कम से कम 300 किलोमीटर होना अनिवार्य है।

सौर ऊर्जा सब्सिडी 2020 राजस्थान के लाभ

  • डीजल पंपों को चलाने के लिए अधिक बिजली खपत होती है, जिसे किसान का बिजली बिल ज्यादा आता है। सौर पंपों के इस्तेमाल से बिजली कम जलेगी और किसान का खर्च कम होगा। 
  • इससे किसान की आर्थिक स्थिति में भी सुधार होगा।
  • सोलर पंप स्थापित करने के पश्चात् सात वर्षों तक देखरेख की जिम्मेदारी आपूर्तिकर्ता फर्म की होती है।
  • आपूर्तिकर्ता फर्म द्वारा 7 सालों का मुफ्त बीमा कवर भी दिया जाता है।

मुख्यमंत्री सौर कृषि पंप अनुदान योजना राजस्थान आवश्यक दस्तावेज

  • पहचान पत्र के रूप में आधार कार्ड, भामाशाह कार्ड, जन आधार कार्ड में से कोई एक लगा सकते हैं।
  • योजना से जुड़ी नियम शर्तें मानने हेतु शपथ पत्र
  • आवेदन पात्रता की पात्रता हेतु सत्यापन प्रमाण पत्र
  • सौर पंप हेतु आपूर्तिकर्ता द्वारा जारी तकनीकी रिपोर्ट
  • 2 पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक पासबुक की फोटो कॉपी
  • भूमि सम्बंधित दस्तावेज खसरा खतौनी
  • फसल गिरदावरी रिपोर्ट
  • त्रि-पार्टी अनुबंधन
  • बिजली विभाग में कृषि कनेक्शन की रसीद

मुख्यमंत्री सोलर योजना राजस्थान आवेदन 

  • योजना से जुड़ने के लिए सर्वप्रथम आपको अपने क्षेत्र के विधुत विभाग जाकर 1000/- जमा करने के पश्चात आवेदन करना होगा।
  • अनुदान हेतु अनुमति मिलने के बाद आपको आवेदन फॉर्म को डाउनलोड कर इसका प्रिंटआउट निकलवाना होगा।
  • आवेदन फॉर्म में पूछी गई जानकारी को सावधानीपूर्वक भरें और जरूरी दस्तावेजों की फोटोकॉपी संलग्न कर दें।
  • अब इस फॉर्म को अपने जिले के होर्टीकल्चर डेवलपमेंट सोसाइटी कार्यालय में जाकर जमा कर दें।

राजस्थान सौर ऊर्जा सब्सिडी 2021-2022 महत्वपूर्ण लिंक

Read Also: Mukhyamantri Chiranjeevi Yojana Registration

2 Comments on “राजस्थान किसानों के लिए सौर ऊर्जा पंप पर सब्सिडी | Rajasthan Solar Pump Subsidy Yojana 2020

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*