वन नेशन वन राशन कार्ड क्या है | योजना की शुरुआत, अप्लाई कर कैसे बनवाएं कार्ड?

One Nation One Ration Card 2021: देश में गरीबों को कम दाम में राशन उपलब्ध कराने हेतु राशनकार्ड बनवाए जाते हैं। अपने क्षेत्र में स्थित सहकारी राशन की दुकान से राशन कार्ड धारक बहुत ही कम दाम में खाद्य सामग्री ले सकता है। जिस राज्य के आप मूलनिवासी हैं, उसी राज्य की निर्धारित सहकारी राशन दुकान से आप राशन ले सकते हैं। दूसरे राज्य में जाकर आप इस राशनकार्ड का इस्तेमाल नहीं कर सकते। गरीबों की इस समस्या को दूर करने के लिए केंद्र सरकार ने वन नेशन वन राशन कार्ड योजना को शुरू किया। योजना की शुरुआत की शुरुआत किस उद्देश्य से की गई, एक राष्ट्र एक राशनकार्ड कैसे बनवाएं, इस योजना को कब लागू किया गया? क्या इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन (Online Apply) करना पड़ेगा? आइए इस योजना से सम्बंधित पूर्ण जानकारी के बारे में जानते हैं।

One Nation One Ration Card Yojana 2021 Detail in Hindi

योजना का नामवन नेशन वन राशन कार्ड
(ONORC- One Nation One Ration Scheme)
केंद्रीय/राजकीय योजनाकेंद्रीय योजना
योजना की शुरुआत 9 अगस्त 2020
लाभहर राज्य से राशन लेने की सुविधा
लाभार्थीराशनकार्ड धारक
अधिकारिक वेबसाइट/ एप (Official website/ App)My Ration App
One nation one ration card yojana in hindi

वन नेशन वन राशन कार्ड योजना क्या है?

केंद्र सरकार की वन नेशन-वन राशन कार्ड योजना की शुरुआत राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 (NFSA- National Food Security Act 2013) के अंतर्गत 9 अगस्त 2020 को हुई थी। योजना को शुरू करते समय केंद्र सरकार द्वारा घोषणा की गई थी कि इस योजना को देश के सभी राज्यों में लागू किया जाएगा। 1 जून 2021 तक योजना से कुल 20 राज्यों को जोड़ा गया। केंद्र सरकार ने 31 जुलाई 2021 तक सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को इस योजना से जोड़ने का लक्ष्य रख था। अब तक कुल 29 राज्य वन नेशन वन राशन कार्ड योजना से जुड़ चुके हैं। धीरे-धीरे सभी राज्यों को इस योजना से जोड़ लिया जाएगा। One Nation One Ration Card Yojana 2021 के माध्यम से राशनकार्ड धारक किसी भी राज्य में जाकर कम दाम में राशन खरीद सकता है। यह व्यवस्था बायोमैट्रिक सिस्टम पर आधारित है, इस सिस्टम की मदद से राशनकार्ड धारक की पहचान उसकी आँख और हाथ के अंगूठे की मदद से की जाती है। दूसरे राज्य में खाद्य सामग्री हासिल करने के लिए उसे ‘मेरा राशन ऐप’ (Mera Ration App) पर खुद को रजिस्टर करना होता है। रजिस्ट्रेशन (Registration) करने के बाद वह जिस राज्य में है वह से कम दाम में खाद्य सामग्री ले सकता है।

Delhi Ghar Ghar Ration Yojana registration

वन नेशन वन राशन कार्ड योजना का उद्देश्य

कई लोग नौकरी के लिए दूसरे राज्य चले जाते हैं, वहीँ मजदूरों को भी काम की तलाश में अपना राज्य छोड़कर दूसरे राज्य जाना पड़ता है। इनके पास राशन कार्ड तो होता है, लेकिन वे इसका उपयोग सिर्फ अपने राज्य में स्थित निर्धारित राशन की दूकान पर ही कर सकते हैं। दूसरे राज्य में कोई भी गरीब व्यक्ति इसका उपयोग नहीं कर सकता। दूसरे राज्य में राशन कार्ड बनवाने के लिए इन्हें दफ्तरों के चक्कर लगाने पड़ते हैं। गरीब किसी भी राज्य में जाकर कम दाम में राशन ले सके इस उद्देश्य केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अंतर्गत वन नेशन वन राशन कार्ड योजना (One Nation One Ration Card Yojana) को शुरू किया। राशन कार्ड होने पर गरीब किसी भी राज्य से राशन ले सकता है, वहीँ किसी करणवश किसी के पास राशन कार्ड नहीं भी है तो उसकी भी मदद की जाती है। प्रवासी मजदूरों को One Nation One Ration Card Yojana का ज्यादा फायदा होगा।

एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना का लाभ

  • इस योजना का सबसे बड़ा लाभ यह है कि कोई भी राशनकार्ड धारक किसी भी राज्य में अपनी नजदीकी शासकीय राशन दूकान से राशन ले सकता है।
  • प्रवासी मजदूरों को काम के लिए अपना राज्य छोडकर दूसरे राज्य जाना पड़ता है, अब वे One Nation One Ration card Yojana की मदद से किसी भी राज्य में जाकर अपने राशन कार्ड का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • प्रवासी योजना के माध्यम से गेहूं, चावल, दाल व अन्य खाद्य सामग्री सस्ते दाम में खरीद सकते हैं।
  • सरकार इंटीग्रेटेड मैनेजमेंट पब्लिक डिस्टीब्यूशन सिस्टम के अंतर्गत आकड़ो को उपलब्ध कराएगी।
  • बिना अप्लाई किए आपको वन नेशन वन राशन कार्ड का लाभ मिलेगा।
  • केंद्र सरकार आंकड़ों के अनुसार लाभार्थियों को इस योजना से जोड़ेगी।
  • सभी राशन कार्डों को आधार कार्ड से लिंक किया जाएगा।
  • यह व्यवस्था बायोमैट्रिक सिस्टम पर आधारित है, जिससे राशन पर होने वाली धांधली को रोका जा सकेगा।
  • ‘मेरा राशन ऐप’ (Mera Ration App) पर आसान सी रजिस्ट्रेशन (Registration) प्रक्रिया के बाद दूसरे राज्य से राशन प्राप्त किया जा सकता है।
  • Mera Ration App की मदद से आप यह जानकारी हासिल कर सकते हैं कि आपको कितना राशन मिलेगा।
  • प्रवासी लाभार्थी एप की मदद से आसानी से यह पता लगा सकते हैं कि उनके आसपास पीडीएस (PDS) के तहत संचालित राशन की कितनी दुकानें हैं। सबसे करीब दूकान पर जाकर प्रवासी राशन ले सकता है।
  • राशन वितरण में आपको किसी भी प्रकार की असुविधा दिखाई देती है तो आप Mera Ration App की मदद से अपनी शिकायत व अपने सुझाव दर्ज कर सकते हैं।
  • योजना के अंतर्गत देश में करीब 5.25 लाख राशन की दुकानों को पंजीकृत किया गया है।

एक राष्ट्र एक राशन कार्ड हेतु पात्रता

  • योजना का लाभ लेने हेतु भारत की नागरिकता होना अनिवार्य है।
  • किसी भी प्रकार के राशनकार्ड की मदद से आप दूसरे राज्य में राशन ले सकते हो।
  • ‘मेरा राशन ऐप’ रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य है।
  • राशनकार्ड सेपरिवार के सभी सदस्यों का आधारकार्ड लिंक होना आवश्यक है।

वन नेशन वन राशन कार्ड कैसे बनवाएं Online Apply

देश में योजना को लागू करने के लिए सभी पीडीएस दुकानों पर पीओएस मशीनें लगाई जाएंगी। इस योजना के तहत पीडीएस के लाभार्थियों की पहचान उनके आधार कार्ड पर इलेक्ट्रॉनिक प्वाइंट ऑफ सेल (PoS) से की जाएगी। जैसे ही राज्य सभी पीडीएस दुकानों पर पीओएस मशीन की रिपोर्ट देंगे, वैसे ही उन्हें ‘एक देश, एक राशन कार्ड’ योजना में शामिल कर लिया जाएगा। लाभार्थी को जुड़ने के लिए ऑफलाइन या ऑनलाइन अप्लाई (Offilne/ Online Apply) नहीं करना पड़ेगा

One Nation One Ration Card State List-

  1. आंध्र प्रदेश
  2. गोवा
  3. गुजरात
  4. हरियाणा
  5. हिमाचल प्रदेश
  6. कर्नाटक
  7. केरला
  8. मध्य प्रदेश
  9. मणिपुर
  10. ओड़िशा
  11. पंजाब
  12. राजस्थान
  13. तमिलनाडु
  14. तेलंगाना
  15. त्रिपुरा
  16. उत्तराखंड
  17. उत्तरप्रदेश
  18. दिल्ली

Important Links-

NFSA Website: Click Here

One Nation One Ration Card FAQ-

वन नेशन वन राशन कार्ड योजना को कब लागू किया गया?

9 अगस्त 2020 को एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना की घोषणा की गई थी

वन नेशन वन राशन कार्ड कैसे बनेगा?

लाभार्थी को योजना से जुड़ने के लिए ऑफलाइन या ऑनलाइन अप्लाई नहीं करना पड़ेगा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*