बिहार कृषि इनपुट अनुदान योजना 2021-22, लास्ट डेट से पहले करे ऑनलाइन आवेदन

Krishi Input Anudan Yojana Bihar 2021-22 Last Date, Status Check, Online Apply Detail in Hindi: मानसून परिवर्तन की वजह से मौसम में अनपेक्षित बदलाव देखने को मिला है। इससे देश के किसानों को सबसे ज्यादा हानि उठानी पड रही है। बाढ़ व ओलावृष्टि की वजह से खेतों की फसल खराब हो रही है। खेतों में जलभराव होने की वजह से किसान आने वाली फसल की बुबाई भी समय पर नहीं कर पाते। जिन किसानों की फसल को मौसम की वजह से नुकसान पहुंचा है, उन्हें आर्थिक मदद देने के लिए राज्य सरकारें भिन्न-भिन्न योजनाओं को संचालित करती हैं। बिहार के किसानों के लिए राज्य सरकार खास कृषि इनपुट अनुदान योजना चलाती है। बिहार सरकार समय-समय पर किसानों से नुकसान की भरपाई करने हेतु आवेदन (Application Form) की मांग करती है। वर्ष 2021-22 के लिए Krishi Input Anudan Yojana के अंतर्गत आवेदन शुरू हो चुके हैं। आइए आगे जानते हैं कि बिहार के कौन-कौन से मौसम आपदा प्रभावित जिले के किसान योजना के लिए आवेदन कर पाएंगे। साथ ही इस योजना से जुडी अन्य जानकारी जैसे उद्देश्य, लाभ, ऑनलाइन आवेदन (Online Apply) प्रक्रिया के बारे में भी बाते करेंगे।

Krishi Input Anudan Yojana Last Date | Kharif 2021-22 Online Application Status Check

योजना का नाम कृषि इनपुट अनुदान योजना
राज्यबिहार
शुरुआत
लाभफसल क्षति होने पर अनुदान
लाभार्थी किसान
अधिकारिक वेबसाइट (Official website)dbtagriculture.bihar.gov.in

Krishi Input Anudan Yojana Bihar 2021-22 Benefits | Eligibility | Form PDF Download | Last Date & Status Check Detail in Hindi

Krishi Input Anudan Yojana Bihar

कृषि इनपुट अनुदान योजना क्या है?

कृषि इनपुट अनुदान योजना को ऐसे किसानों को आर्थिक लाभ देने के लिए प्रारंभ किया गया था, जिनकी फसल प्राकृतिक आपदा की वजह से खराब हो गई है। बिहार सरकार (Bihar Gov.) द्वारा प्रति हेक्टेयर अधिकतम 13500/- रूपये का अनुदान दिया जाता है। योजना के अंतर्गत जिन जिलों को शामिल किया गया है, उन्हीं जिलों के किसानों को अनुदान (Subsidy) का लाभ दिया जाता है। ऑनलाइन आवेदन (Online Apply) कर पात्रता (Eligibility) रखने वाले किसान इस योजना से जुड़ सकते हैं।

Krishi Input Anudan Yojana Subsidy Amount List

  • बाढ़ / अतिवृष्टि से हुई फसल क्षति के लिए वर्षाश्रित (असिंचित) फसल क्षेत्र के लिए 6,800 रूपये प्रति हेक्टेयर 
  • सिंचित क्षेत्र के लिए 13,500 रूपये प्रति हेक्टेयर 
  • कृषि योग्य भूमि जहाँ बालू / सिल्ट का जमाव 3 इंच से अधिक हो, ऐसी जमीन के लिए 12,200 रु प्रति हेक्टेयर 
  • गन्ना समेत अन्य शाश्वत फसलों के लिए 18,000 रूपए प्रति हेक्टेयर कि दर से अनुदान राशि दी जाती है

कृषि इनपुट अनुदान योजना 2021-22 (खरीफ सीजन आवेदन)

वर्ष 2021 में बिहार के कई जिलों के किसानों की खरीफ फसल को बाढ़ एवं जल जमाव की वजह से काफी नुकसान झेलना पड़ा है। वहीँ कई जिलों के किसान अनपेक्षित बारिश की वजह से हुए जलभराव के कारण खरीफ फसलों की बुवाई नहीं का पाए थे। बिहार के ऐसे किसानों को कृषि इनपुट योजना के माध्यम से अनुदान देकर उनकी परेशानियों को कम करने की कोशिश की जा रही है। राज्य सरकार के द्वारा निर्धारित जिलो में आवेदन की प्रक्रिया को शुरू कर दिया गया है। ऑनलाइन आवेदन 5 नवम्बर से 20 नवम्बर 2021 तक किया जा सकता है। आगे आपको ऑनलाइन आवेदन करने की पूर्ण प्रक्रिया बताई गई है।

Krishi Input Anudan Yojana Last Date Kharif Season 2021-22

वर्ष 2021 के लिए बिहार के कृषि मंत्री अमरेन्द्र प्रताप सिंह ने जानकारी दी की खरीफ 2021 में आई बाढ़/अतिवृष्टि की वजह से 30 जिलों के 265 प्रखंडों की फसलों को नुकसान हुआ है। वहीँ 17 जिलों के 149 प्रखंडों में जल जमाव के कारण परती रह गयी, जिसके कारण किसान बुवाई नहीं कर पाए। नीचे आपको जिलों की सूची दी गई है, जहाँ के किसान ऑनलाइन आवेदन (Online Apply) कर अनुदान हासिल कर सकते हैं।

बाढ़/अतिवृष्टि के कारण प्रभावित 30 जिले

पटना, नालंदा, भोजपुर, बक्सर, भभुआ, गया, जहानाबाद, सारण, सिवान, गोपालगंज, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चम्पारण, पश्चमी चम्पारण, सीतामढ़ी, वैशाली, दरभंगा, समस्तीपुर, बेगुसराय, मुंगेर, शेखपुरा, लखीसराय, खगड़िया, भागलपुर, सहरसा, सुपौल, मधेपुरा, पूर्णिया तथा कटिहार।

बाढ़/अतिवृष्टि के कारण 17 जिलों की भूमि परती रह गई

नालंदा, बक्सर, सारण, गोपालगंज, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चम्पारण, पश्चिमी चम्पारण, वैशाली, दरभंगा, मधुबनी, समस्तीपुर, बेगुसराय, खगड़िया, सहरसा, अररिया तथा कटिहार।

Krishi Input Anudan Yojana Bihar- उद्देश्य (Objective)

देश में किसान की आजीविका खेती पर निर्भर करती है। जब किसानों की फसल, खराब मौसम की वजह से बर्बाद हो जाती है तो इससे उनकी आर्थिक स्थिति प्रभावित होती है। कई किसान कर्ज में डूब जाते हैं, जिसके कारण कुछ किसान आत्महत्या जैसा बड़ा कदम उठा लेते हैं। फसल बर्बाद होने के बाद किसानों को उनके नुकसान की भरपाई सरकार के द्वारा की जाती है, जिससे उनकी आर्थिक स्थिति संतुलित बनी रहे। इस उद्देश्य से बिहार सरकार ने कृषि इनपुट अनुदान योजना को प्रारंभ किया था।

Read Also:

Krishi Input Anudan Yojana Bihar- लाभ (Benefits)

  • योजना के अंतर्गत बाढ़/अतिवृष्टि से हुए फसल नुकसान से सिंचित क्षेत्र हेतु 13,500/- रूपए प्रति हेक्टेयर कि दर से अनुदान दिया जाएगा।
  • बाढ़/अतिवृष्टि की वजह से हुए फसल नुकसान से असिंचित क्षेत्र हेतु 6,800/- रूपए प्रति हेक्टेयर कि दर से कृषि इनपुट सब्सिडी दी जाएगी।
  • गन्ना समेत अन्य शाश्वत फसलों के लिए 18,000/- रूपए प्रति हेक्टेयर कि दर से अनुदान राशि (Subsidy Amount) दी जाएगी।
  • अधिकतम 2 हेक्टेयर जमीन पर अनुदान दिया जाएगा।
  • फसल क्षेत्र हेतु 1000/- रुपए न्यूनतम राशि निर्धारित की गई है।
  • किसान रैयत हो या गैर रैयत सभी प्रभावित किसानों को अनुदान की राशि दी जाएगी।
  • बिहार कृषि इनपुट अनुदान योजना 2021 के अंतर्गत मिलने वाली राशि DBT के माध्यम से सीधा किसानों के बैंक खाते में पहुंचाई जाती है।

Eligibility & Documents

  • आवेदक बिहार का स्थायी निवासी होना चाहिए ।
  • किसान के पास खेती करने योग्य भूमि होनी चाहिए ।
  • वहीं बटाईदार के पास वास्तविक खेतीहर+स्वयं भू-धरी की स्थिति में भूमि के दस्तावेज के साथ स्व घोषणा पत्र संलग्न करना अनिवार्य है।
  • खेती के दस्तावेज़
  • किसान के पास एलपीसी/जमीन रसीद/वंशावली/जमाबंदी/विक्रय पत्र होना चाहिए।
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

कृषि इनपुट अनुदान योजना 2021 में आवेदन कैसे करें? (Online Apply)

  • आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको बिहार डीबीटी एग्रीकल्चर की आधिकारिक वेबसाइट (Official Website) पर जाना होगा।
  • ऑफिसियल वेबसाइट पर आपको ‘ऑनलाइन आवेदन करें’ विकल्प के अंतर्गत ‘कृषि इनपुट अनुदान योजना खरीफ 2021-22’ का चयन करें।
  • अब आपके सामने एक पॉपअप विंडो खुलेगी, यहां आपको जनरल यूजर (General User) पर क्लिक करना होगा।
  • आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुलेगा, यहाँ आपको बिहार डीबीटी एग्रीकल्चर पोर्टल पर पंजीकरण कर दौरान मिली 13 अंकों की पंजीकरण संख्या दर्ज कर सर्च बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको पॉपअप विंडो दिखाई देगी, यदि आपके द्वारा दिए जाने वाले बैंक अकाउंट से आधार लिंक है तो ओके बटन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपका कृषि इनपुट अनुदान योजना से संबंधित आवेदन फॉर्म खुल जाएगा।
  • आपको अपने फॉर्म में निजी जानकारी पहले से दर्ज दिखाई देगी, जोकि आपने डीबीटी बिहार एग्रीकल्चर पर पंजीकरण करते वक्त दी थी।
  • अब आपको नीचे आकर किसान का प्रकार एवं भूमि विवरण ब्लॉक के अंतर्गत जानकारी देनी होगी।
  • सबसे पहले खेती करने योग्य कुल जमीन की जानकारी दर्ज करें।
  • इसके बाद किसान का प्रकार व क्षति का कारण बताएं।
  • अब फसल का नाम, जमीन का प्रकार व क्षति का कारण चुनें।
  • थाना नंबर, खाता नंबर, खेसरा नंबर दर्ज करें।
  • इसके बाद लगाए गई फसल का भूमि का कुल रकवा व क्षति भूमि का रकवा (डिसिमिल में) दर्ज करें, जिसके बाद अनुदान की मिलने वाली राशि जुड़ कर आपके सामने आ जाएगी।
  • इसके बाद आपको अपने आस-पास खेती करने वाले किसान की जानकारी देनी होगी।
  • सभी जानकारी ध्यानपूर्वक भरने के बाद शपथ पत्र के अंतर्गत दिए गए तीनों विकल्प पर टिक करें और ‘Get OTP’ बटन पर क्लिक कर दें।
  • अब अपने मोबाइल नंबर पर प्राप्त OTP व स्क्रीन पर दिखाई दे रहे कैप्चा कोड को दर्ज करने के बाद Validate & Apply बटन पर क्लिक कर दें।
  • आगे आपको दस्तावेज अपलोड करने का विकल्प दिखाई देगा, यदि आप खुद की भूमि पर खेती करते हैं, तो आपको LPC अपलोड करनी होगी, वहीँ यदि आप किसी ओर की भूमि पर खेती करते हैं, तो आपको अधिकारिक वेबसाईट पर जाकर स्वघोषणा पत्र डाउनलोड करना होगा। इस पत्र को भरने के बाद आपको यह दस्तावेज अपलोड करना होगा।
  • दस्तावेज अपलोड करने के बाद सबमिट बटन पर क्लिक कर दें। इस तरह आपके आवेदन करने की प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी।

Download स्वघोषणा पत्र (Swa Ghoshna Patra) PDF

  • स्वघोषणा पत्र को डाउनलोड करने के लिए सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा
  • ऑफिसियल वेबसाइट पर आपको ‘ऑनलाइन आवेदन करें’ विकल्प के अंतर्गत ‘कृषि इनपुट अनुदान योजना खरीफ 2021-22’ का चयन करें।
  • आपके सामने एक नया पेज खुलेगा, यहाँ आपको ‘स्व-घोषणा प्रमाण पत्र डाउनलोड करें‘ लिंक पर क्लिक करना होगा
  • लिंक पर क्लिक करते ही आपके सामने स्वघोषणा पत्र की PDF खुल जाएगी, जिसे आप डाउनलोड कर सकते हैं

Bihar Krishi Input Anudan 2021-22 Check Online Application Status

  • बिहार कृषि इनपुट अनुदान योजना 2021-22 Online Application Status Check करने के लिए सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • यहाँ वेबसाइट के होमपेज पर आपको आवेदन की स्थिति/ आवेदन प्रिंट विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके अंतर्गत आपको कृषि इनपुट अनुदान योजना सब्सिडी खरीफ 2021-22 (आवेदन की स्थिति) विकल्प का चयन करें।
  • आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुलेगा, यहाँ अपना Application Number दर्ज करें और Search बटन पर क्लिक कर दें।
  • जिसके बाद आपके सामने Bihar Krishi Input Anudan 2021-22 Online Application Status की जानकारी आ जाएगी।

संपर्क विवरण (Contact Detail)

Email ID- dbtcellagri@gmail.com

Help Line Number- 1800 180 1551

Important Links:

Official Website: Click Here

स्वघोषणा पत्र (Swa Ghoshna Patra) PDF From Download: Click Here to Download

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*