गौरा देवी कन्या धन योजना क्या है, Uttrakhand की कन्या ऐसे Download करें Form PDF

Gaura Devi Kanya Dhan Yojana Form PDF Uttrakhand 2022, Form PDF Download, Eligibility, Benefits, Details in Hindi: लड़कियों को समाज में ऊँचा उठाने व उन्हें शिक्षा देने के लिए नई-नई योजनाएं संचालित की जाती हैं। हर राज्य अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और गरीबी रेखा के नीचे आने वाले अन्य वर्ग के परिवार से आने वाली लड़कियों को शिक्षा देने के लिए योजना चलाती है। इन योजनाओं के माध्यम से लड़की को आर्थिक मदद दी जाती है। उत्तराखंड सरकार (Uttrakhand Government) के द्वारा गौरा देवी कन्या धन योजना (Gaura Devi Kanya Dhan Yojana) चलाई जाती है, जिसके माध्यम से पात्रता (Eligibility) रखने वाली लड़कियों को उनके जन्म से लेकर विवाह से पहले तक निर्धारित राशि दी जाती है। गौरा देवी कन्याधन अनुदान योजना क्या है, इसके लिए ऑनलाइन आवेदन फॉर्म कैसे भर सकते हैं, योजना का लाभ लेने के लिए क्या पात्रता है, योजना की शुरुआत कब हुई थी, आइए उत्तराखंड सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना से संबंधित संपूर्ण जानकारी के बारे में जानते हैं। इस पोस्ट के अंत में आप गौरा देवी कन्या धन योजना के आवेदन फॉर्म की पीडीएफ भी डाउनलोड (Form PDF Download) कर पाएंगे।

Gaura Devi Kanya Dhan Yojana Uttrakhand 2022 Detail in Hindi

योजना का नामगौरा देवी कन्याधन अनुदान योजना
राज्यउत्तराखंड
शुरुआत2017
लाभ51,000/- आर्थिक मदद
लाभार्थी पात्र 12वीं कक्षा पास कन्या
अधिकारिक वेबसाइट (Official website)escholarship.uk.gov.in

Gaura Devi Kanya Dhan Yojana Form PDF 2022, Eligibility, Benefits, Document List

 Gaura Devi Kanya Dhan Yojana form pdf Uttrakhand

गौरा देवी कन्या धन योजना क्या है? (Gaura Devi Kanya Dhan Yojana)

उत्तराखंड सरकार ने साल 2017 में नंदा गौरा देवी कन्या धन योजना को प्रारंभ किया था। महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग उत्तराखंड के द्वारा योजना को संचालित किया जाता है। इसके माध्यम से कन्या के जन्म पर प्रोत्साहन राशि के तौर पर ₹11000/- की धनराशि व कन्या के 12वीं पास करने के बाद उसे ₹51000/- की धनराशि सीधे बैंक खाते में दी जाती है। पात्रता रखने वाली लड़कियों के लिए राज्य सरकार के द्वारा ऑनलाइन पोर्टल तैयार किया गया है। इस आधिकारिक पोर्टल के माध्यम से कन्याएं सुविधाजनक रूप से ऑनलाइन आवेदन कर सकती हैं।

Gaura Devi Kanya Dhan Yojana – उद्देश्य (Objective)

उत्तराखंड राज्य में आज भी कई क्षेत्र ऐसे हैं जहां लड़कियों को बोझ समझा जाता है। पुराने समय से ही समाज में लड़कियों को लड़कों से कम महत्त्व दिया जाता रहा है। उन्हें शिक्षा के क्षेत्र में आगे नहीं बढ़ने दिया जाता, कई बार तो लड़कियों को गर्भ में ही मार दिया जाता है। जिस वजह से लिंगानुपात में भी कमी देखने को मिलती है। कन्या के जन्म पर परिजन को प्रोत्साहित करने व लिंगानुपात में सुधार लाने के उद्देश्य से नंदा गौरा देवी कन्या धन योजना को शुरू किया गया था।

यह भी पढ़ें:

उत्तराखंड फ्री टैबलेट योजना 2021: 10-12वीं के छात्रों को मिलेगा Free Tablet, Online Registration

{ऑनलाइन फॉर्म} मुख्यमंत्री सौर स्वरोजगार योजना 2021 हेतु उत्तराखंड के बेरोजगार करे ऑनलाइन आवेदन

दीनदयाल किसान कल्याण योजना क्या है, उत्तराखंड किसान को बिना ब्याज पर लोन

Gaura Devi Kanya Dhan Yojana – लाभ (Benefits)

  • नंदा गौरा देवी कन्या धन योजना के माध्यम से अनुसूचित जाति, जनजाति और गरीबी रेखा से नीचे आने वाले BPL (SC ,ST ,EWS ) वर्ग की लड़कियों को ₹51000/- की धन राशि दी जाती है।
  • योजना के माध्यम से कन्या को मिलने वाला आर्थिक लाभ सीधा उनके बैंक खाते में दिया जाता है।
  • 12वीं कक्षा पास करने के बाद कन्या के बैंक खाते में जो ₹51000/- की धनराशि जमा करवाई जाती है, उसकी 5 वर्ष के लिए एफडी कर दी जाती है, ब्याज के साथ आपको 75,000/- रुपए की राशि प्रदान कर दी जाती है।
  • उससे वह बिना किसी रुकावट के अपनी उच्च शिक्षा को पूरा कर सकती है।
  • उच्चा शिक्षा प्राप्त कर लड़कियां आत्मनिर्भर बनेंगी और समाज में लड़कों के साथ कदम से कदम मिलाकर चल पाएंगी।
  • योजना की मदद से लिंगानुपात में सुधार में भी सुधार होगा।

नंदा गौर देवी कन्या धन योजना 2022 पात्रता (Eligibility)

  • उत्तराखंड की मूलनिवासी बालिका ही योजना के आवेदन कर लाभ प्राप्त करने के पात्र होगी।
  • आवेदन करने वाली बालिका अनुसूचित जाति, अनुसूचित जन जाति या गरीबी रेखा से नीचे आने वाले BPL वर्ग की होनी चाहिए ।
  • यदि आवेदिका ग्रामीण परिवार से है तो परिवार की वार्षिक आय 15976 रूपये होनी चाहिए।
  • वहीँ शहरी क्षेत्र से आने वाली बालिका के परिवार की वार्षिक आय 21206 रूपये होनी चाहिए।
  • योजना का लाभ लेने के लिए आवेदिका का 12 कक्षा में पास होना अनिवार्य है।
  • जिस वर्ष कन्या आवेदन कर रही हो उस समय उसकी उम्र 25 वर्ष होना चाहिए।
  • सिर्फ अविवाहित आवेदिका ही योजना के लिए आवेदन कर पायेगी।

दस्तावेज़ लिस्ट (Documents List)

  • आधार कार्ड
  • जाति प्रमाण पत्र
  • बीपीएल कार्ड (जो परिवार गरीबी रेखा से नीचे आते हैं)
  • मूल निवासी प्रमाण पत्र
  • हाई स्कूल अंक तालिका की छायाप्रति
  • वोटर आईडी कार्ड
  • विद्यालयी शिक्षा परिषद द्वारा निर्गत नामांकन संख्या /रोल नंबर
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक खाते से सम्बंधित जानकारी
  • पासपोर्ट साइज फोटो

Gaura Devi Kanya Dhan Yojana Uttrakhand 2022 – आवेदन प्रक्रिया

  • गौरा देवी कन्या धन योजना का लाभ लेने हेतु आवेदन करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर आपको एप्लीकेशन फॉर्म की पीडीएफ डाउनलोड करने का विकल्प दिखाई देगा।
  • इस पर क्लिक कर आप गौरा देवी कन्या धन योजना के आवेदन फॉर्म की PDF डाउनलोड कर सकते हैं।
  • अब आवेदन फॉर्म का प्रिंट आउट निकलवा लें।
  • आप आवेदन फॉर्म को आंगनबाड़ी केंद्रों व डीपीओ कार्यालय से भी प्राप्त कर सकते हैं।
  • इसके बाद फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे आवेदिका का नाम, पिता का नाम, आधार कार्ड नंबर, बैंक खाते की जानकारी आदि को ध्यानपूर्वक भरें।
  • आवेदन फॉर्म भरने के बाद सभी जरूरी दस्तावेजों की फोटो कॉपी को संलग्न कर दें।
  • अब अपने फॉर्म को अपने स्कूल के अध्यापक या संबंधित विकास खंड कार्यालय या सहायक समाज कल्याण अधिकारी के पास जमा कर दें।
  • इस प्रकार गौरा देवी कन्या धन योजना के लिए आपके आवेदन की प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी।

आवेदन फॉर्म की स्थिति देखें 2022 (Status Check)

  • आवेदन करने के बाद यदि आप ऑनलाइन माध्यम से आवेदन की स्थिति देखना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको आवेदनों की वर्तमान स्थिति जाने का विकल्प दिखाई देगा।
  • इस पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
  • नए पेज पर आपको अपने जिले, ब्लॉक एवं स्कूल का चयन करना होगा।
  • इसके बाद आपको अपनी छात्रवृत्ति आवेदन संख्या तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • अब खोजे के विकल्प पर क्लिक करें, जिसके बाद आपके सामने आवेदनों की वर्तमान स्थिति आ जाएगी।

Important Links:

Official Website: Click Here

Gaura Devi Kanya Dhan Yojana Form PDF: Click Here to Download Form PDF

FAQ-

गौरा देवी कन्याधन अनुदान योजना की शुरुआत कब हुई थी?

उत्तराखंड सरकार के द्वारा वर्ष 2017 में गौरा देवी कन्याधन अनुदान योजना की शुरुआत की गई थी।

गौरा देवी कन्याधन अनुदान योजना के अंतर्गत लाभार्थी को कितनी राशि मिलती है?

आवेदन करने वाली लाभार्थी कन्या के खाते में कक्षा 12वीं पास करने के बाद 51,000/- रुपए बैंक खाते में जमा करवाए जाते हैं।

क्या गौरा देवी कन्याधन अनुदान योजना की राशि एफडी की जाती है?

हाँ, लाभार्थी के खाते में लाभ की राशि जमा होने के पश्चात् 5 वर्ष के लिए उसकी एफडी कर दी जाती है।

गौरा देवी कन्याधन अनुदान योजना के अंतर्गत मिलने वाली राशि की एफडी होने पर 5 वर्ष के बाद कितनी राशि मिलती है?

51,000/- रुपए बैंक खाते में जमा होने पर 5 वर्ष की एफडी पूरी होने के बाद लाभार्थी को ब्याज समेत 75,000/- रुपए दिए जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*