Delhi Shramik Mitra Yojana 2021-22: दिल्ली श्रमिक मित्र योजना क्या है, ऑनलाइन आवेदन व पात्रता

Delhi Shramik Mitra Yojana 2021: महामारी के बाद से ही सरकार मजदूरों के प्रति जागरूक हो गई है। उनके लिए अलग-अलग प्रकार की योजनाएं तैयार की जा रही है। वर्ष 2021 में केंद्र सरकार के द्वारा श्रमिक कार्ड योजना बनाई गई, जिसके अंतर्गत मजदूरों को कई लाभ दिए जार रहे हैं। वहीँ दिल्ली सरकार ने अपने राज्य के मजदूरों के लिए श्रमिक मित्र योजना शुरू की है। इस योजना के माध्यम से श्रमिकों तक सरकारी योजनाओं की जानकारी को पहुंचाया जाएगा। आइए दिल्ली श्रमिक मित्र योजना (Delhi Shramik Mitra Yojna) से जुड़े लाभ, उद्देश्य समेत अन्य जानकारियों के बारे में जानते हैं।

Delhi Shramik Mitra Yojana 2021-2022 Detail in Hindi

योजना का नाम श्रमिक मित्र योजना
राज्यनई दिल्ली
शुरुआत2021
लाभश्रमिकों तक योजना की जानकारी पहुंचाना
लाभार्थी दिल्ली के सभी श्रमिक
अधिकारिक वेबसाइट (Official website)उपलब्ध नहीं है
Delhi Shramik Mitra Yojana

दिल्ली श्रमिक मित्र योजना क्या है?

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के द्वारा श्रमिक मित्र योजना (Delhi Shramik Mitra Yojana 2021) को वर्ष 2021 में शुरू किया गया। डिप्‍टी सीएम मनीष सिसौदिया ने योजना को मजदूरों के लिए लॉन्च किया था। योजना के अंतर्गत राज्य सरकार श्रमिक मित्रों की नियुक्ति करेगी। ये श्रमिक मित्र श्रमिकों के बीच में जाकर उन्हें दिल्ली सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी देंगे। श्रमिकों के हित में चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी मिलने से वे इनका लाभ सहूलियत के साथ ले पाएंगे।

Delhi Shramik Mitra Yojana 2021 – उद्देश्य (Objectives)

दिल्ली सरकार श्रमिकों के हित में कई योजनाओं का संचालन करती है, लेकिन जानकारी के आभाव की वजह से पात्र श्रमिक इन योजनाओं का लाभ लेने से वंचित रहे जाते हैं। श्रमिक मित्र योजना का उद्देश्य श्रमिकों तक योजना की जानकारी को समय पर पहुंचाना है, जिससे की उन्हें योजनाओं का लाभ मिल पाए। दिल्ली सरकार श्रमिकों के बीच से ही 800 श्रमिक मित्रों का चयन करेगी, जो योजनाओं की जानकारी को अपने भाईयों तक समय पर पहुचाएंगे।

यह भी पढ़ें:

Delhi Shramik Mitra Yojana 2021 – लाभ (Benefits)

  • दिल्ली के सभी मजदूरों को समय पर सरकारी योजनाओं की जानकारी मिलेगी।
  • श्रमिकों के बीच से ही 800 श्रमिक मित्रों की नियुक्ति की जाएगी।
  • श्रमिक मित्रों का कार्य श्रमिकों तक योजना की जानकारी पहुँचाने के साथ ही आवेदन करवाना और योजना का लाभ मिल जाने तक उनकी हरसंभव सहायता करना होगा।
  • शर्मिक मित्रों को प्रशिक्षण दिया जाएगा, जिसके बाद वे डिस्ट्रिक्ट,विधानसभा और वार्ड कोर्डिनेटर के रूप में काम करेंगे।
  • हर वार्ड में श्रमिकों के लिए 3-4 श्रमिक मित्र होंगे।

श्रमिकों के साथ दिल्ली सरकार

दिल्ली सरकार श्रमिकों व उनके बच्चों को आगे बढ़ाने के लिए कई बड़े कदम उठा रही है। श्रमिक मित्र योजना को लॉन्च करते हुए दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि श्रमिकों के बच्चों में टैलेंट तो होता है लेकिन वे बड़े सपने देखने से डरते है। दिल्ली सरकार का उद्देश्य है कि वह श्रमिकों को ये भरोसा दिला पाएं कि केजरीवाल सरकार उनके साथ है। हमारी सरकार मजदूरों की हर संभव मदद करने के लिए तैयार है।

दिल्ली सरकार की तरफ से श्रमिकों को दिए जाने वाले लाभ

  • घर निर्माण के लिए 3-5 लाख रुपए दिए जाएंगे।
  • मातृत्व लाभ में 30,000 रुपए की राशि प्रदान की जाएगी।
  • कार्य सम्बंधित टूल खरीदने के लिए 20,000 रुपए का लोन और 5,000 रुपये की सहायता राशि दी जाएगी।
  • श्रमिक की मृत्यु होने पर परिवार को 1 लाख व दुर्घटना से मृत्यु होने पर 2 लाख की सहायता राशि दी जाएगी।
  • विकलांग होने पर 1 लाख की सहायता राशि व 3000 रुपए हर माह पेंशन मिलेगी।
  • श्रमिकों व उनके बच्चों की शादी के लिए 35,000 से 51,000 रुपये की सहायता राशि दी जाएगी।
  • श्रमिकों के बच्चों को स्कूली शिक्षा व उच्च शिक्षा हेतु 500 से 10,000 रुपये प्रतिमाह दिए जाएंगे।
  • 3,000 रुपये प्रतिमाह की वृद्धावस्था पेंशन मिलेगी व हर वर्ष 300 रुपए की वृद्धि की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*