डेयरी उद्यमिता विकास योजना 2021: Dairy Ke Liye Loan Kaise Le । PM Dairy Loan Yojana Details in Hindi

डेयरी उद्यमिता विकास योजना 2021 (DEDS- Dairy Entrepreneurship Development Scheme): सरकार किसानों सक्षम और आत्मनिर्भर बनाने के लिए लगातार प्रयास कर रही है। नई-नई योजनाओं के माध्यम से आर्थिक लाभ पहुँचाकर किसान को सक्षम बनाया जा रहा है, आसानी से लोन देकर उन्हें स्वरोजगार हेतु प्रोत्साहित किया जा रहा है। खेती के साथ-साथ किसान अन्य माध्यम से भी आय कर सके यह हमेशा से ही केंद सरकार की रणनीति रही है। डेयरी उद्यमिता विकास योजना का मुख्य उद्देश्य भी किसान को आर्थिक आय पहुँचाने से जुड़ा है। इस योजना के तहत सरकार लोगों को डेयरी खोलने और उससे सबंधित अन्य कार्य करने के लिए प्रोत्साहित करती है। पशुपालन, दुग्ध उत्पादन की प्रोसेसिंग, वर्मी कम्पोस्ट, डेयरी पार्लर, मिल्क कोल्ड स्टोरेज जैसे अन्य कार्यों को शुरू करने वाले लोगों को सरकार सब्सिडी के साथ लोन भी मुहैया करवाती है।

Contents hide

PM Dairy Loan Yojana 2021 Details in Hindi

डेयरी उद्यमिता विकास योजना के तहत आप 20 लाख तक का लोन ले सकते हैं। शहरी लोग ज्यादा से ज्यादा डेयरी खोलकर किसानों से दूध खरीदें जिससे वह अच्छी कमाई करें और उन्हें पशुपालन करने के लिए प्रोत्साहन भी मिले। शहरी क्षेत्र के लोगों के साथ किसान सहित अन्य वर्ग के लोग भी डेयरी उद्यमिता विकास योजना के माध्यम से लोन ले सकते हैं। इस योजना के तहत डेयरी के लिए लोन कैसे लें। प्रधानमंत्री डेयरी योजना से लोन लेने की पात्रता क्या है। इस आर्टिकल में आपको डेयरी उद्यमिता विकास योजना से सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी दी जावेगी, इसलिए इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें।

CONTENTS-

Dairy Entrepreneurship Development Scheme (DEDS) Details in Hindi । Dudh Dairy Loan ki Jankari । Dairy Ke Liye Loan Kaise Le । Govt Loan For Dairy Farming । Nabard se Dairy Loan Kaise le । Pradhan Mantri Dairy Yojana । Eligibility । Objectives । Benefits ।

डेयरी उद्यमिता विकास योजना की जानकारी

पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन विभाग (Department of Animal Husbandry, Dairying and Fisheries -DAHD&F) ने साल 2005 में छोटे डेयरी फार्म को खोलने के लिए डेयरी और पोल्ट्री के लिए वेंचर कैपिटल योजना (Venture Capital Scheme for Dairy & Poultry) शुरू की थी। साल 2010 में इस योजना का नाम बदलकर डेयरी उद्यमिता विकास योजना (Dairy Entrepreneurship Development Scheme – DEDS) कर दिया गया।

DEDS Scheme 2020-21 Objectives in Hindi

डेयरी उद्यमिता विकास योजना के उद्देश्य

  • लोगों के लिए स्व– रोजगार पैदा करना और उन्हें बुनियादी सुविधाएं देना।
  • पौष्टिक और स्वच्छ दूध उत्पादन के लिए आधुनिक डेयरी फार्मो की स्थापना करना।
  • पशुपालन पालन को प्रोत्साहित करना, जिससे उनका संरक्षण किया जा सके।
  • असंगठित क्षेत्र में संरचना को बदलना, जिससे दूध की प्रारंभिक प्रक्रिया को ग्रामीण स्तर पर ही किया जा सके।
  • पारंपरिक तकनीक से नई तकनीकों को जोड़कर दूध की गुणवत्ता में सुधार करना।

PM Dairy Loan Yojana 2020-21 | Subsidy | Eligibility

प्रधानमंत्री डेयरी लोन योजना के लिए पात्रता

  • डेयरी उद्यमिता विकास योजना का लाभ किसान से लेकर शहरी क्षेत्र का नागरिक भी उठा सकता है। 
  • गैर सरकारी संगठन, असंगठित और संगठित क्षेत्र के समूह, कंपनियां भी इस योजना से लोन लेने की पात्र हैं।
  • संगठित क्षेत्र के समूह में स्वयं सहायता समूह (SHG), डेयरी सहकारी समितियां, दूध संगठन, दूध महासंघ जैसे समूहों को सम्मिलित किया गया है।
  • जो भी इस लोन योजना का एक बार लाभ ले चुका है, वह दूसरी बार डेयरी उद्यमिता विकास योजना से लोन लेने का पत्र नहीं होगा।
  • एक परिवार के अन्य सदस्य अलग-अलग भी इस स्कीम का फायदा ले सकते हैं। इसके लिए शर्त यह है कि सदस्यों की डेयरी का स्थान अलग-अलग होना चाहिए और दोनों के बीच कम से कम 500 मीटर की दूरी होनी चाहिए।
  • डेयरी उद्यमिता विकास योजना के तहत कुछ बैंकों को चयनित किया गया है, जिनमें से एक बैंक नाबार्ड (NABARD) राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक है। इन बैंकों में आवेदन कर आप आसानी से अपना लोन पा सकते हैं।
  • प्रधानमंत्री डेयरी योजना में आपको केंद्र सरकार की ओर से सब्सिडी भी दी जाती है। सामान्य/ ओबीसी और एससी/एसटी वर्ग के लिए अलग-अलग सब्सिडी निर्धारित की गयी है। एससी/एसटी वर्ग के लिए कुल खर्च पर 33% तक और सामान्य वर्ग के लिए 25% तक की सब्सिडी का प्रावधान है।

PM Dairy Farm loan Yojana Bank List

प्रधानमंत्री डेयरी योजना में इन बैंकों से मिलेगा लोन

नाबार्ड (NABARD) द्वारा इस योजना का संचालन किया जाता है। इस बैंक के अंतर्गत वाणिज्यिक बैंक, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक, राज्य सहकारी बैंक, राज्य सहकारी सहकारी कृषि और ग्रामीण विकास बैंक आती हैं। नाबार्ड के अंतर्गत आने वाली जिस भी ग्रामीण बैंक में आपका खाता है, आप वहां जाकर इस योजना के माध्यम से लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं। यदि आपके क्षेत्र में राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक (NABARD) है तो आप सीधा वहां जाकर भी लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं।   

प्रधानमंत्री डेयरी लोन सम्बंधित महत्वपूर्ण नियम

  • डेयरी उद्यमिता विकास योजना के माध्यम से ऋण लेने वाले व्यक्ति के लिए पात्रता निर्धारित की गयी है, यदि वह निर्धारित पात्रता के अंतर्गत नहीं आता तो वह ऋण लेने का पात्र नहीं होगा।
  • लोन लेने के लिए आवेदन करने वाले व्यक्ति की आयु 18 वर्ष से ज्यादा और 65 वर्ष से कम होनी चाहिए।
  • यदि आप पशुपालन के लिए लोन लेते हैं तो आप कम से कम 2 और ज्यादा से ज्यादा 10 पशुओं के लिए ही लोन ले सकते हैं। इसमें पशु की नस्ल भी देखी जाती है, ज्यादा दूध देने वाली नस्ल के पशुपालन के लिए ही आप लोन का आवेदन कर सकते हैं। साहीवाल, गीर, राठी, रेड सिंध, विदेशी नस्ल की ज्यादा दूध देने वाली गायों और भैंसों का पशुपालन आप कर सकते हो।
  • पशुपालन के अलावा आप दुग्ध उत्पादन की प्रोसेसिंग के लिए उपकरण भी खरीद सकते हैं।
  • वर्मी कम्पोस्ट, डेयरी पार्लर, मिल्क कोल्ड स्टोरेज जैसे अन्य कार्यों को भी डेयरी उद्यमिता विकास योजना के तहत शुरू किया जा सकता है।
  • आप जिस भी प्रोजेक्ट की शुरुआत करने वाले हैं उसके बजट का कम से कम 10% आपको अपनी जेब से लगाना होगा।
  • पशुपालन के कार्य को पूरा करने के लिए 2 वर्ष की समय सीमा निर्धारित की गई है, जबकि अन्य कार्यों के लिए यह समय 9 माह तय किया गया है।
  • आपका कार्य किसी वजह से निर्धारित समय सीमा में नहीं हुआ तो सरकार की तरफ से दी जाने वाली सब्सिडी आपको नहीं दी जाएगी।
  • लोन की पहली किश्त जमा करने के बाद ही आपके खाते में सब्सिडी जमा की जाएगी।
  • बैंक द्वारा सब्सिडी पर किसी भी प्रकार का ब्याज नहीं दिया जाएगा।

PM Dairy Farm loan Yojana Apply Application Form

लोन के लिए आवेदन करने से पहले इन बातों का रखें ध्यान

  • बैंक में लोन के लिए आवेदन करने से पहले यह तय कर लें कि आपको किस कार्य के लिए लोन की आवश्यकता है।
  • वर्मी कम्पोस्ट, डेयरी पार्लर, मिल्क कोल्ड स्टोरेज, पशुपालन या फिर जिस भी अन्य प्रोजेक्ट के लिए आप लोन लेना चाहते हैं उसकी रणनीति अच्छे से तैयार कर लें।
  • लोन से सम्बंधित जरूरी दस्तावेज पहले से तैयार रखें। सभी दस्तावेज पूरे होने के बाद ही आवेदन करें, नहीं तो आपका लोन पास होने में परेशानी आ सकती है, यहां तक की आपके लोन को अस्वीकार भी किया जा सकता है।

DEDS Loan Documents

लोन सम्बंधित जरूरी दस्तावेज

  • पहचान पत्र (आधार कार्ड या वोटर आईडी)
  • जाति प्रमाण पत्र
  • मूलनिवासी प्रमाण पत्र
  • यदि कोई व्यक्ति 1 लाख से ज्यादा राशि के लिए लोन आवेदन करता है तो उसे अपनी ज़मीन सम्बंधित दस्तावेज बैंक में गिरवी रखने पड़ सकते हैं।
  • आवेदनकर्ता की पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • इन दस्तावेजों के अलावा आपको एक और आवेदन पत्र लिख कर देना होगा, जिसमें यह जानकारी देना होगा कि आप किस लिए लोन ले रहे हैं। आप लोन की राशि का भुगतान कितने वर्षों में कर देंगे। आप कौन-सा कार्य करते हैं और आपकी आमदनी कितनी है।

Nabard Dairy Loan Application Form

प्रधानमंत्री की इस लोन योजना के लिए आवेदन कैसे करें

सबसे पहले आवेदनकर्ता को अपने बैंक में जाकर बैंक कर्मचारी से इस योजना के माध्यम से लोन के लिए आवेदन करने की पूरी जानकारी लेना होगा। बैंक कर्मचारी द्वारा बताए गए सारे दस्तावेजों के साथ लोन के लिए आवेदन करें। आपके ग्रामीण बैंक द्वारा आपकी लोन रिक्वेस्ट को योजना संचालक बैंक नाबार्ड को भेज दिया जाएगा।

आपके सभी दस्तावेजों का वेरिफिकेशन किया जाएगा, इसके बाद आपसे सवाल जवाब करने के लिए आपको एक मीटिंग में बुलाया जाएगा, जहाँ अधिकारी आपसे लोन लेने से जुड़े कई सवाल पूछेंगे। अधिकारी यह भी जांच करेंगे की आपको सच में लोन की जरुरत है या नहीं। यदि उन्हें उम्मीद के अनुसार जवाब नहीं मिले तो आपके लोन आवेदन को अस्वीकार किया जा सकता है।

Jai Jawan, Jai Kisan

1 Comment on “डेयरी उद्यमिता विकास योजना 2021: Dairy Ke Liye Loan Kaise Le । PM Dairy Loan Yojana Details in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*