Bihar Gehu Kharid Registration: ऐसे करें बिहार में समर्थन मूल्य पर गेहूं बेचने हेतु ऑनलाइन पंजीयन 2022-23

Bihar Gehu Kharid Registration 2022-23 Detail in Hindi: बिहार राज्य के किसानों ने रबी फसलों (Rabi Fasal 2022-23) की कटाई करना शुरू कर दिया है।  राज्य सरकार के द्वारा न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर रबी सीजन की मुख्य फसल गेंहू को खरीदने के लिए सभी जिलों में तैयारियां शुरू हो गई हैं। यदि आप भी बिहार के किसान हैं तो आपके लिए समर्थन मूल्य पर गेहूं बिक्री हेतु DBT Agriculture Bihar की अधिकारिक वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया को शुरू कर दिया गया है। आप जल्द से जल्द वेबसाइट पर Gehu Kharid Registration 2022-23 करवाकर सुविधजनक रूप से गेहूं बेचें।  वर्ष 2022 में राज्य सरकार ने कुल 10 लाख टन गेहूं की खरीद का लक्ष्य निर्धारित किया है।  

DBT Agriculture Bihar Website Gehu Kharid Registration / Booking Process 

बिहार किसनों को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूं बेचने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना होगा।  10 अप्रैल 2022 से राज्य के सभी किसान DBT Agriculture Bihar Website से गेहूं खरीद पंजीकरण की प्रक्रिया को पूरा कर पाएंगे।  गेहूं की सरकारी खरीद प्रक्रिया 20 अप्रैल से प्रारंभ होगी, जोकि 31 मई तक जारी रहेगी।  राज्य के सभी जिलों में खरीद की तैयारियां शुरू हो गई है।  पंचायत स्तर पर पैक्स और प्रखंड स्तर पर व्यापार मंडल द्वारा गेंहू की खरीद की जावेगी।  राज्य में 7422 क्रय केंद्र खोल गए हैं, जिससे किसान आसानी से गेंहू फसल को बेचा सके।  आइए आगे जानते हैं की कैसे आप Gehu Kharid Registration Process को पूरा कर सकते हैं।

हमारा फेसबुक पेज लाइक करें

बिहार गेहूं पंजीयन ऑनलाइन 2022-23 नियम

  • आवेदन देने के लिये OTP उनके पंजीकृत मोबाइल पर भेजा जाएगा, जो आवेदन के लिये आवश्यक एवं गोपनीय है।  कृपया एक ही मोबाइल संख्या का प्रयोग करें।
  • कृपया आवेदन सबमिट करने से पूर्व आवेदन के सभी सूचना को पुनः जांच ले।
  • आवेदन फ़ाइनल सबमिट करने के बाद संसोधन की अनुमति नहीं है।
  • रैयत किसान के लिए – अधिकतम गेहूँ की मात्रा 150 क्विंटल निर्धारित की गई है।
  • गैर रैयत के लिए- अधिकतम गेहूँ की मात्रा 50 क्विंटल निर्धारित की गई है।
  • 20 अप्रैल 2022 से गेहूँ अधिप्राप्ति की शुरुआत हो रही है।  
  • गेहूँ अधिप्रप्ति के समय आप अपनी पसंद के किसी भी पैक्स या व्यापार मंडल पर गेहूँ बेच सकते है।
  • भुगतान के लिए किसान का बैंक खाता उसके आधार से लिंक होना चाहिए।
  • बैंक खाता केवाइसी से अपडेट होना अनिवार्य है।
  • यदि किसान खरीफ विपणन वर्ष 2021-22 में धान बेचने हेतु पंजीकरण करवाया था रो उन्हें गेहूं बेचने के लिए दोबारा पंजीकरण कराने की आवश्यकता नहीं है।  

Bihar Rabi Fasal 2022-23 Panjiyan

  • बिहार गेहूं बिक्री रजिस्ट्रेशन 2022-23 शुरू करने के लिए सबसे पहले आपको DBT Agriculture Bihar की आधिकारिक वेबसाईट पर जाना होगा।  
  • आप इस लिंक पर क्लिक कर DBT Agriculture Bihar Official Website पर जा सकते हैं।
  • वेबसाईट के होमपेज पर आपको रबी (गेहूं) अधिप्राप्ति (2022-23) के अंतर्गत आवेदन करें का विकल्प दिखाई देगा इस पर क्लिक कर दें।  
  • यहाँ आपको अपना किसान पंजीकरण संख्या को दर्ज कर सर्च बटन पर क्लिक करना होगा।  
  • किसान पंजीकरण संख्या न होने की स्थिति में आपको पहले किसान पंजीकरण करना अनिवार्य होगा।
  • किसान पंजीकरण संख्या को दर्ज करने के बाद आपको उससे सम्बंधित जानकारी दिखाई देगी।
  • यदि आपकी निजी व बैंक सम्बंधित जानकारी गलत दर्ज है तो आप DBT Agriculture Portal की मदद से उसमें सुधार कर सकते हैं।
  • आगे आपको अपना बैंक विवरण देना होगा।
  • इसके बाद गेंहू की बिक्री आप पैक्स या व्यापार मंडल में से कहाँ करना चाहते हैं, उसका चयन करना होगा।
  • अब आपको किसान का प्रकार का चयन करना होगा, आप रैयत किसान हैं या फिर गैर रैयत इसकी जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • आपने किसान के प्रकार में जो भी विकल्प चुना है उससे सम्बंधित पूछी गई जानकारी को दर्ज करें।
  • अपनी जमीन से सम्बंधित जानकारी दर्ज करें व आवेदन की घोषणा पर टिक मार्क कर आगे बढें बटन पर क्लिक कर दें।
  • स्क्रीन पर दिखाई दे रहे कैप्चा कोड को दर्ज करने के बाद सुरक्षित करें विकल्प पर क्लिक कर दें।
  • अब आपके नंबर पर OTP प्राप्त होगा।
  • OTP को दर्ज करें और Final Submit पर क्लिक कर दें।
  • इस तरह से आपके आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

Bihar Gehu Kharid Registration, MSP Details

बिहार में राज्य सरकार ने 7422 क्रय केंद्र खोले हैं, जिससे किसानों को समर्थन मूल्य पर गेंहू बिक्री करने में परेशानी नहीं होगी।  सरकार द्वारा गेंहू का समर्थन मूल्य भी निर्धारित कर दिया गया है।  वर्ष 2022 में 2015 रुपये प्रति क्विंटल की दर सरकार न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर गेहूं खरीद करेगी।  यह मूल्य पिछले वर्ष की अपेक्षा ज्यादा है।  पिछले वर्ष 1975 रुपये प्रति क्विंटल की दर से गेहूं की खरीद की गई थी।  यानी इस बार किसानों को प्रति क्विंटल 40 रुपये अधिक गेहूं का मूल्य  दिया जा रहा है।  

यह भी पढ़ें-

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*