Bihar Diesel Anudan Yojana 2022: बिहार सरकार दे रही डीजल अनुदान, फॉर्म भरकर उठाएं लाभ

Bihar Diesel Anudan Yojana 2022, Registration Form, Benefits Details in Hindi: हमारे देश के कुछ राज्यों में किसानों की आर्थिक स्थिति मजबूत है, लेकिन कुछ राज्य ऐसे भी हैं जहाँ किसानों को आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है। हरियाणा व पंजाब में किसानों की आर्थिक स्थिति मध्य प्रदेश, बिहार, उत्तरप्रदेश व अन्य राज्यों की अपेक्षा काफी अच्छी है। हरियाणा व पंजाब में किसानों की मासिक औसत आय 20-22 हजार से आस-पास है। वहीँ मध्य प्रदेश, बिहार, उत्तरप्रदेश समेत अन्य राज्यों में यह संख्या 7 हजार के आस-पास है, जोकि बेहद ही दयनीय है। इन राज्यों में किसानों की आर्थिक स्थित कमजोर होने की वजह से कई बार किसान कर्ज में डूबकर आत्महत्या जैसा गलत कदम उठा लेते हैं। ऐसे में राज्य सरकार इन किसानों के आर्थिक बोझ को कम करने के लिए कई योजनाएं संचालित करती है।

बिहार सरकार के द्वारा राज्य के किसानों के लिए डीजल अनुदान योजना को चलाया जाता है। योजना के माध्यम से किसान द्वारा डीजल खरीदे जाने पर अनुदान दिया जाता है। बिहार डीजल अनुदान योजना क्या है, आवेदन फॉर्म भरकर आप कैसे इस योजना का लाभ ले सकते हैं, किसानों को कितना डीजल अनुदान दिया जाता है? आइए इस योजना से सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी के बारे में जानते हैं।

Bihar Diesel Anudan Yojana 2022 Details in Hindi

योजना का नामडीजल अनुदान योजना
राज्यबिहार
लाभडीजल पर अनुदान
लाभार्थी राज्य के किसान
अधिकारिक वेबसाइट (Official website)यहाँ क्लिक करें
Bihar Diesel Anudan Yojana

बिहार डीजल अनुदान योजना क्या है?

बिहार सरकार के द्वारा बिहार डीजल अनुदान योजना (Bihar Diesel Anudan Yojana 2022) को शुरू किया गया था। इस योजना के माध्यम से राज्य के किसानों को 3 फसलों के लिए अलग-अलग फसलों के अनुसार सिंचाई हेतु अनुदान दिया जाता है। जो किसान डीजल पंप सेट से अपने खेतों में सिंचाई करते हैं, उन किसानों को इस अनुदान योजना का लाभ दिया जाता है। बिहार सरकार किसानों को प्रति लीटर 50 रुपए की सब्सिडी प्रदान करती है। यह अनुदान फसलों के अनुसार 400 रूपए प्रति एकड़ से 1200 प्रति एकड़ तक तीन मौसमी फसलों के लिए दिया जाता है। इसके अलावा योजना की मदद से बिजली यूनिट पर भी अनुदान दिया जाता है।

Bihar Diesel Anudan Yojana – उद्देश्य (Objective)

ज्यादातर किसानों की आर्थिक स्थिति बिहार में ठीक नहीं है, जिस वजह से खेती करने के लिए भी उन्हें कर्ज लेना पड़ता है। जब मौसम व किसी अन्य वजह से उनकी फसल को नुकसान होता है तो किसान कर्ज में डूबकर आत्महत्या जैसा कदम उठा लेता है। किसान बिना किसी अतिरिक्त  आर्थिक बोझ के खेती कर पाए इस उद्देश्य से बिहार सरकार ने डीजल अनुदान योजना को प्रारंभ किया। आंकड़ों के अनुसार बिहार में करीब 1 करोड़ 16 लाख रजिस्टर्ड किसान हैं, जिन्हें इस योजना के द्वारा लाभ देने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। राज्य सरकार डीजल अनुदान योजना के लिए 200 करोड़ का बजट निर्धारित किया है।

Bihar Diesel Anudan Yojana- लाभ (Benefits)

  • योजना के माध्यम से किसानों को डीजल खरीद पर अनुदान दिया जाता है।
  • किसानों की वर्ष की तीनों फसलों के लिए अलग-अलग अनुदान दिया जाता है।
  • धान की फसल पर चार सिंचाई हेतु प्रति एकड़ के हिसाब से 400/- रूपए डीजल सब्सिडी के रूप मे दी जाती है।
  • गेहूं की फसल पर 3 सिंचाई के लिए अधिकतम 1200/- रूपए प्रति एकड़ से अनुदान दिया जाएगा।
  • वहीँ अन्य फसल जैसे दलहन, तिलहनी, मौसमी सब्ज़ी और सुगंधित पौधों के लिए 2 सिंचाई हेतु अधिकतम 800 रूपए प्रति एकड़ की दर से अनुदान दिया जाता है।
  • कृषि कार्य के लिए प्रति यूनिट बिजली दर 96 पैसे थी, जिसे राज्य सरकार ने घटाकर 75 पैसा कर दिया।

Bihar Diesel Anudan Yojana- पात्रता (Eligibility)

  • बिहार राज्य के मूल निवासी किसान ही योजना के लिए आवेदन करने के पात्र होंगे।
  • आवेदक मूलरूप से किसान होना चाहिए।
  • पात्र किसान के पास कम से कम खेती योग्य एक एकड़ भूमि होनी चाहिए।
  • किसान के पास खुद का बैंक खाता होना चाहिए और वह आधार कार्ड से लिंक होना अनिवार्य है।

Bihar Diesel Anudan Yojana form Apply Online, Documents Details

Read Also

बिहार डीजल अनुदान योजना दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • मूलनिवास प्रमाण पत्र
  • बैंक पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • किसान कृषि प्रमाण पत्र या कृषि भूमि से संबंधित डाक्यूमेंट्स
  • डीजल विक्रेता की रसीद

Bihar Diesel Anudan Yojana Form Online Apply

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए सबसे पहले बिहार कृषि विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं।
  • वेबसाईट के होम पेज पर आपको ऑनलाइन आवेदन करने का विकल्प दिखाई देगा, इस पर क्लिक करें।
  • यहाँ आपको बिहार डीजल अनुदान योजना 2022 का विकल्प दिखाई देगा इस पर क्लिक करें।
  • अब आपको अनुदान का प्रकार का चयन करना होगा।
  • इसके बाद रजिस्ट्रेशन करें और ऑप्शन को सेलेक्ट कर सर्च के ऑप्शन में क्लिक कर दें।
  • पंजीकरण प्रक्रिया को 3 अलग-अलग विकल्पों में बांटा गया है, स्वयं, बटाईदार और स्वयं+बटाईदार।
  • यदि आप स्वयं के विकल्प का चयन कर आवेदन करते हैं तो आपको अपना थाना नंबर, खाता नंबर खसरा नंबर कुल सिंचित रकबा और अपने आस पास के दो किसानों के नाम और डीजल रसीद को अपलोड करना होगा।
  • यदि आप बटाईदार के विकल्प का चयन कर आवेदन करते हैं तो खाता नंबर खसरा नंबर कुल सिंचित रकबा थाना नंबर और अपने आस पास के किसानो के नाम और उनके जरिये सत्यापित दस्तावेजों और डीजल रसीद को अपलोड करना अनिवार्य होगा।
  • स्वयं+बटाईदार होने की स्थिति में किसान को स्वयं के लिए खाता नंबर, खसरा नंबर, थाना नंबर, खेत चारों तरफ स्थित खेत किसानों के मालिक का नाम और बटाईदार के लिए खसरा नंबर कुल रकबा किसानो के नाम साथ ही उनके जरिये सत्यापित दस्तावेज डीजल रसीद के साथ अपलोड करना अनिवार्य होगा।
  • इस तरह से आपके आवेदन की प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी।

Contact Details

बिहार डीजल अनुदान योजना क्या है, आप इसके लिए ऑनलाइन फॉर्म भरकर लाभ कैसे उठा सकते हैं, यह जानकारी आपको अच्छे से मिल गई होगी। यदि अब भी आपके मन में इस योजना से सम्बंधित कोई सवाल है तो आप नीचे दिए गए नंबर पर संपर्क कर अपने सवालों को पूछ सकते हैं।

Official Website: Click Here

टोल फ्री: 0612-2233555

Bihar Diesel Anudan Yojana FAQ-

बिहार डीजल अनुदान के तहत किसानों को कितना अनुदान दिया जाता है?

आपको बता दें बिहार सरकार शुरू की गई इस योजना के माध्यम से किसानों को प्रति लीटर के हिसाब से 50 रूपए तक की सब्सिडी दी जाती है।

बिहार के किसान कौन सी फसल के लिए डीजल अनुदान ले सकते हैं?

रबी एवं खरीफ दोनों फसलों के लिए बिहार के किसान डीजल अनुदान का लाभ उठा सकते हैं।

बिहार डीजल अनुदान योजना का फायदा उठाने के लिए कहा आवेदन करें?

बिहार कृषि विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट dbtagriculture.bihar.gov.in फॉर्म भरकर आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*